World best hindi status 

दुनिया टूटते हुए तारे से भी दुआ मांगती है,

कौन कहता है बर्बादी किसी के काम नहीं आती


जो इंसान अपने दिल का दर्द नही बता पाता,

उसे ही गुस्सा सबसे ज्यादा आता है।


हम तो नादान हैं क्या समझेंगे उसूल-ए-मोहब्बत

बस तुझे चाहा था, तुझे चाहा है और तुझे ही चाहेंगे



बुलन्दियों को पाने की ख्वाहिश तो बहुत थी,

लेकिन दूसरो को रौंदने का हुनर कहां से लाता !!



प्यार करने का हुनर हमें आता नहीं, इसीलिये हम प्यार की बाज़ी हार गये; हमारी जिंदगी से उन्हें बहुत प्यार था; शायद इसीलिये वो हमें जिंदा ही मार गये


उनकी यादों से हमे पता चलता है,

की जो दिल में उतर जाते हैं,

वो कभी भुलाये नही जाते हैं।


मेरे जनाजे में सारा शहर निकला,

लेकिन वो न निकला जिनके लिये हमारा जनाजा निकला।


मुझे घमंड नहीं किसी भी बात का,

क्यूँकि में जानता हूँ की एक रात

ज़िंदगी में ऐसी भी होगी, जिसके

बाद कोई सवेरा नहीं होगा



हम उनसे तो लड़ लेंगे, जो खुले आम दुश्मनी करते हैं, लेकिन उनका क्या करे, जो लोग मुस्कुरा के दर्द देते हैं


वक़्त ने सिख दी हमे होशियारी वरना हम भी मासूमियत की हद तक मासूम थे।


मजा चख लेने दो उसे गेरो की मोहबत का भी, इतनी चाहत के बाद जो मेरा न हुआ वो ओरो का क्या होगा।


जिसने हमको चाहा उसे हम चाह न सके,

और जिसको हमने चाहा उसको हम पा न सके


परवाह करने की आदत ने तो परेशां कर दिया,

गर बेपरवाह होते तो सुकून-ए-ज़िंदगी में होते।


मुझ से नफरत है अगर उस को तो इज़हार करे

कब मैं कहता हूँ मुझे प्यार ही करता जाये


वही रिश्ता, वही नाता, वही मैँ और वही तुम,बस अब वक्त ना रहा तेरे पास इजहार-ए-मोहब्बत के लिए


उसकी जुदाई को लफ़्ज़ों में कैसे बयान करें…वो रहता दिल में…धडकता दर्द में…और बहता अश्क में


मेरी हर शायरी मेरे दर्द को करेगी बंया ए गम

तुम्हारी आँख ना भर जाएँ, कहीं पढ़ते पढ़ते।


वक्त से पहले मिली चीजें अपना मूल्य खो देती है

और वक्त के बाद मिली अपना महत्व



हमें शादी का कोई शौक नहीं है; कसम से, ये तो आने वाले बच्चों की ज़िद है की मम्मी चाहिए


अकड_दिखाओगे तो मेरा कुछ नहीं उखाड_पाओगे ।


मैं जब तक शराफत में रही तब तक हर पल आफ़त में रही।


आप हमारे पास तो रहोगे उम्र भर,

चाहे प्यार बन कर,

चाहे दर्द बन कर।


भाई बोलने का हक मैंने सिर्फ दोस्तों को दिया है वरना आज भी दुश्मन मुझे बाप के नाम से जानते हैं



चाहे सारी दुनिया तुम्हे बोलने लगे की तुम हरनेवाले हो तुम हार गए लेकिन तुम तब तक नहीं हार सकते जब तक तुम खुद हार मान न लो


छेड़ने लगीं सहेलियां उसकी, उसको मुजसे मिलने के बाद,

कि रंग क्यों बदला है तेरे होठों का उसको मिलने के बाद



दुनियां का सबसे बेहतरीन रिश्ता वही होता है जहाँ एक हल्की सी मुस्कुराहट और छोटी सी माफी से जिंदगी दुबारा पहले जैसी हो जाती है।



'ना ढूंढ मेरा किरदार दुनिया के भीड़ में,

वफ़ादार तो हमेशा तन्हा ही मिलते हैँ..


बहुत कमियां निकालते हैं हम दूसरों के अंदर, आईये जरा एक मुलाकात आईने से भी कर लें।


भीड़ तो काफी होती थी मेरी महफिलों में

फिर मैं सच बोलता गया लोग उठते गए !


लाख पता बदला, मगर पहुँच ही गया,

ये ग़म भी था कोई डाकिया ज़िद्दी सा।


तुझसे अच्छे तो जख्म हैं मेरे ।

उतनी ही तकलीफ देते हैं जितनी बर्दास्त कर सकूँ


अगर तुम्हारी गिनती बदमाशों में होती है तो हमारा नाम भी कभी शरीफों की गिनती में नहीं आया !


वो तो शायरों ने लफ्जो से सजा रखा है,

वरना मोहब्बत इतनी भी हसीँ नही होती।


ज़ख़्म देकर ना पूछा करो दर्द की शिद्दत,

दर्द तो दर्द होता है थोड़ा क्या ज्यादा क्या।




हम नींद में सपने देखते हैं, लेकिन ईश्वर हमें हर दिन नींद से जगाकर
अपने सपनों को, पूरा करने का एक मौका देते हैं

उनसे जैसे ही दोस्ती से आगे बात बड़ी,
यारो वो दोस्ती भी नही रही।

हमें तो कब से पता था कि तुम बेवफा हो बस तुझसे प्यार करते रहे कि शायद तुम्हारी फितरत बदल जाये।

बहुत दर्द देती है वो सजा,
जो बिना खता के मिली हो।