Top 28+ word best motivational shayari in hindi

 हेलो दोस्तों आप सभी को शायरियंडमोटिवशन वेबसाइट में आप सभी को स्वागत है। आज मै आप सभी को मोटिवेशनल शायरी का बेस्ट कलेक्शन लेकर आया हु। ये सभी शायरी आप सभी को मोटीवेट करने में सक्षम है। मोटिवेशनल शायरी हारे हुए इंसान को जीने का एक नया तरीका सिखाता है।

 दोस्तों मोटिवेशनल शायरिया हम सभी को एक जीने का नया तरीका sikhati है। यदि आप सभी को ऐसी ही ढेर शायरिया चाहिए तो आप इस वेबसाइट पर सभी प्रकार की शायरी उपलब्ध है।  हारे इंसान को जीने का एक नया राश्ता दिखलाता है।  मै उम्मीद करता हु की यह शायरी आप सभी को पसंद आयी होगी।  यह शायरी किसी भी प्लेटफार्म पर शेयर कर सकते है, वो भी फ्री में।  

हम हमेश आप सभी के लिए नए नए शायरियो का संग्रह लेट रहते है।  मै आशा और विश्वास करता हु की आप सभी को यह शायरिया पसंद आयी होगी। 

Without wasting our precious time, let begin to to read world best motivational shayari in hindi.

Here you find motivation shayari that help to inspire anybody that fail in her life. Its help to achieve our goal.


1ना पूछो कि मेरी ✌मंजिल कहाँ है.
अभी तो सफर का इरादा किया है..
तेरी मोहब्बत ने दिया सुकून इतना,
कि तेरे बाद और कोई अच्छा न लगे,
तुझे करनी है बेवफ़ाई तो इस अदा से कर,
कि तेरे बाद कोई भी बेवफ़ा न लगे।
ना हारूंगा✌ हौंसला उम्र भर...
ये मैंने किसी से नहीं💙 खुद से वादा किया है....








2कोशिश के बावजूद हो जाती है कभी हार..
होके निराश मत बैठना ऐ यार....
बढ़ते रहना आगे✌ हो जैसा भी मौसम..
पा लेती मंजिल✌ चींटी भी...
गिर गिर👽 कर कई बार....


3पानी में तस्वीर बना सकते हो तुम👳
कलाम को शमशेर💙 बना सकते हो तुम..

न करना प्यार कभी किसी मुसाफिर से उनका ठिकाना बहुत दूर होता है,
वो कभी बेवफा तो नहीं होते, मगर उनका जाना ज़रूर होता है

कायर हैं 👩जो तकदीर पे रोते हैं...
जैसी चाहो😃 वैसी तकदीर बना सकते हो तुम....


4बुझी शमां भी जल👼 सकती है..
तूफान से कश्ती भी💟 निकल सकती है...

न कोई मज़बूरी है न तो लाचारी है, बेवफाई उसकी पैदायशी बीमारी है।

होके मायूस यूं ना💂 अपने इरादे बदल..
तेरी किस्मत❤ कभी भी बदल सकती है...


5मैदान में हारा हुआ 👲इंसान.
फिर से जीत ✌सकता है..
लेकिन...
मन से हारा हुआ इंसान👨 कभी नहीं जीत सकता....
मन के हारे हार है💣 और मन के जीते जीत.....


6राह-ए-ज़िन्दगी👼 में ऐसे मोड़ भी आते है..
सीधे रखे कदम💙 भी डगमगा जाते है...


तेरी तो फितरत थी सबसे मोहब्बत करने की,
हम बेवजह खुद को खुशनसीब समझने लगे।


बहके कदमो को 💖जो संभाल पाते है..
वो मुक़म्मल इंसान👽 कहलाते है...


7एक सपना जादू से हकीकत नहीं 💆बन सकता..
इसमें पसीना, दर्द, संकल्प और कड़ी💆 मेहनत लगती है....


तेरी चौखट से सिर उठाऊं तो बेवफा कहना, तेरे सिवा किसी और को चाहूँ तो बेवफा कहना, मेरी वफाओं पे शक है तो खंजर उठा लेना, मैं शौक से मर ना जाऊं तो बेवफा कहना।


पसीने✌ की स्याही से जो लिखते हैं इरादें को..
उसके मुक्कद्दर ✌के सफ़ेद पन्ने कभी कोरे नहीं होते....


8रहने दे आसमान ज़मीन💋 की तलाश कर.
सब कुछ यही है ना💟 कही और तलाश कर..


हर आरज़ू पूरी हो तो💚 जीने का क्या मज़ा...
जीने के लिए बस ☝एक कमी की तलाश कर....


9नजर-नजर👀 में उतरना कमाल होता है..
नफ़स-नफ़स में बिखरना कमाल होता है...


बुलंदियों✌ पे पहुंचना कोई कमाल नहीं..
बुलंदियों☝ पे ठेहराना कमाल होता है...


10तुम यहाँ धरती पे लकीरें💃 खींचते हो...
हम वहां अपने लिए नए आसमान💭 ढूँढ़ते हैं....


उसने महबूब ही तो बदला है फिर ताज्जुब कैसा,
दुआ कबूल ना हो तो लोग खुदा तक बदल लेते है।

तुम बनाते जाते हो 😔पिंजरे पे पिंजरा...
हम अपने पंखों✌ में नयी उड़ान ढूँढ़ते हैं....


11इंतजार👼 मत करो हमेशा कोशिश करते रहो.
क्योंकि जितना तुम सोचते👽 हो..
जिंदगी से कहीं ज्यादा तेजी👻 से आगे निकल रही है...


12अगर पाना है मंज़िल✌ तो.
अपना रहनुमा 👼खुद बनो..


वो अक्सर भटक💦 जाते हैं...
जिन्हें सहारा😌 मिल जाता है....


13ज़िन्दगी बस ☝एक हसीन ख़्वाब है..
दिल❤ में जीने की चाहत होनी चाहिये....

गुलाब तो टूट कर बिखर जाता है;
पर खुशबु हवा में बरकरार रहती है;
जाने वाले तो छोड़ के चले जाते हैं;
पर एहसास तो दिलों में बरकरार रहते हैं।

ग़म खुद ही ख़ुशी☺ में बदल जायेंगे..
सिर्फ मुस्कुराने☺ की आदत होनी चाहिये....


14मुश्किलों से भाग जाना👽 आसान होता है.
हर पहलू ज़िन्दगी का ✊इम्तिहान होता है..


डरने वालों को मिलता नहीं कुछ 💛ज़िन्दगी में...
लड़ने वाले के कदमों💛 में जहान होता है....


15जो फ़कीरी💥 मिजाज़ रखते हैं..
वो ठोकरों में ताज✌ रखते हैं...
जिनको कल💇 की फ़िक्र नहीं..
वो मुठ्ठी💕 में आज रखते हैं...


16भुझी शमा भी जल 💥सकती है..
भुझी शमा💬 भी जल सकती है...
तूफान 😓से कश्ती भी निकल सकती है..


बीते हुए कुछ दिन ऐसे हैं;
तन्हाई जिन्हें दोहराती है;
रो-रो के गुजरती हैं रातें;
आंखों में सहर हो जाती है!


होके मायूस यू ना अपने👩 इरादे बदल...
तेरी किस्मत👩 कभी भी बदल सकती है....


17गम के अन्धेरो💥 मे खुद को यु ना बेकरार कर.
गम के अन्धेरो💥 मे खुद को यु ना बेकरार कर..
सुबह 😊ज़रुर आयेगी...
सुबह💇 का इन्तज़ार कर....


18लोग कहते है.
लोग✊ कहते है कि इशक इतना मत करो..
के हुसन👌 सर पे सवार हो जाये...
हम कहते है कि इशक❤ इतना करो....
कि पत्थर ❤दिल ❤को भी तुमसे प्यार हो जाये.....


19निगाहों में मंजिल✌ साफ़ थी..
बार-बार गिरे 👦मगर गिरकर संभलते रहे...
हवाओं ने कोशिशे💏 तो बहुत की.
मगर हम वो चिराग थे 💗आँधियों में भी जलते रहे...


20ज़िन्दगी में उलझे हुए😖 सवालो के जवाब ढूंढता हूँ..
जो कर सके मेरे दर्द कम👴 ऐसा मैं नशा ढूंढता हूँ...

आज हम उनको बेवफा बताकर आए हैं, उनके खतो को पानी में बहाकर आए हैं, कोई निकाल न ले उन्हें पानी से, इस लिए पानी में भी आग लगा कर आए हैं।

माना के हालत से मजबूर 💥और वक़्त से लाचार हु मैं..
जो दे दे मुझे जीने का बहाना👴 बस वो राह ढूंढता हूँ मैँ...


21अगर सामने हो मंजिल 💥तो कभी रास्ते ना मोड़ना..
मन में अगर कोई सपना😔 उसे कभी मत तोड़ना...

तेरी बेवफाई ने हमारा ये हाल कर दिया है,
हम नहीं रोते लोग हमें देख कर रोते हैं।

यु तो हर कदम पर😞 मिलेगी मुश्किलें आपको..
बस सितारे छूने के लिए😧 कभी जमीन मत छोड़ना...


22मंजिले✌ मिले ना मिले ये तो मुकदर✌ की बात है..
अगर हम कोशिश💇 भी ना करे ये तो गलत बात है....


23आज बादलों ने💬 फिर साजिश की...
जहाँ मेरा घर था 💇वहीं बारिश की....
अगर फलक को जिद है 💦बिजलियाँ गिराने की...
तो हमें भी जिद है😱 वहीं पर आशियाँ बसाने की....


24निगाहों में मंजिल✌ थी..
गिरे और गिरकर संभलते👸 रहे....
हवाओं ने बहुत कोशिश💥 की..
मगर चिराग आंधियों😖 में भी जलते रहे....


25रो कर मुस्कुराने☺ का मजा ही कुछ और है..
जिंदगी में कुछ खो कर💙 पाने का मजा ही कुछ और है...


ज़िन्दगी में हार और जीत✌ तो लगी ही रहती है..
लेकिन हार के जीतने✌ का मजा ही कुछ और आता है...


26कौन कहता है कि💙 बुने हुए ख्वाब सच्चे नहीं होते..


मंजिलें✌ उन्हीं को नहीं मिलती जिनके इरादे अच्छे नहीं होते....
रूखी-सूखी रोटी और धक्के तो बहुत खाए हैं😋 जिंदगी में लेकिन..

उसके चेहरे पर इस कदर नूर था, कि उसकी याद में रोना भी मंज़ूर था, बेवफ़ा भी नहीं कह सकते उसको “फराज़”, प्यार तो हमने किया है वो तो बेक़सूर था।
आज देख रहा हूँ कि ✌सफलता के फल कभी कच्चे नहीं होते।....


27मिली जो ✌मंजिल✌ तो कारवां भी बड़ा लग रहा था...
वरना सफ़र में हर शख्स👨 मुझे ठग रहा था....
यूँ ही नहीं पहुंचा हूँ आज मैं👱 इस मुकाम पर...
जब सो रहा था💫 ये ‘जग’ तब मैं ‘जग’ रहा था....


28बारऐसा  नहीं  की 👯 राह  में  रहमत  नहीं  रही..
पैरो  को  तेरे  चलने 💢 की  आदत  नहीं  रही...
कश्ती  है 😱 तो  किनारा  नहीं  है..
दूरअगर  तेरे  इरादों😚  में  बुलंदी बनी  रही...


29अपनों के दरमियां💙 सियासत फ़िजूल है...
मक़सद न हो कोई तो😀 बग़ावत फ़िजूल है..
रोज़ा, नमाज़,😧 सदक़ा-ऐ-ख़ैरात या हो...
हजमाँ बाप ना खुश☺ हों, तो इबादत फ़िजूल है....


30साथ   नहीं  रहने  से  💖रिश्ते  नहीं  टुटा  करते.
वक़्त  की  धुंध  से  लम्हे😀  नहीं   टुटा   करते..

न पूछ मेरे सब्र की इन्तहां कहाँ तक है, तू सितम कर ले तेरी हसरत जहाँ तक है, वफ़ा की उम्मीद जिन्हें होगी उन्हें होगी, हमे तो देखना है तू बेवफा कहाँ तक है।

लोग  कहते  हे  मेरा  😋सपना  टूट  गया...
टूटी  नींद है👻  सपने  नहीं  टुटा  करते....

Post a Comment

0 Comments