Best attitude shayari that help to change your life

 हेलो दोस्त आप सभी को शायरियंडमोटिवशन पर सभी को स्वागत है / इस article में आप सभी को यहाँ पर ऐटिटूड शायरी मिलेगा / शायरी एक एसी bhassa  है, जो व्यक्ति अपनी ऐटिटूड को दुसरो के सामने अपने बारे में बताता है / इश्से ये पता चलता है के व्यक्ति अपने बारे में क्या सोचता है / इस शायरी के माध्यम से हम दुशरो को अपने बारे में कुछ बताना चाहते है / हम यहाँ पर हमेशा नए श्यारी अपडेट करते रहते है / यदि आप सभी को ऐटिटूड शायरी पढ़ना अच्छा लगता है, तो आप सही आर्टिकल पढ़ रहे हो / यहाँ पर हम आपके लिए बेस्ट कलेक्शन ऐटिटूड शायरी दाल रहे है / 

मोहब्बत का नतीजा दुनिया में हमने बुरा देखा, जिन्हें दावा था वफ़ा का उन्हें भी हमने बेवफा देखा।हम इस शायरी के माध्यम से अपने के बारे में बताते है, की हम कैसे इन्शान है / दोस्तों हम ऐटिटूड शायरी दो लाइन, तीन लाइन ,चार लाइन इत्यादि में डालते है / हम आशा करते है की आप सभी को ये शायरी अच्छी लगेगी / यदि आप सभी को ऐसे ही शायरी पसंद है तोह आप सही वेबसाइट पर ऐटिटूड शायरी पढ़ रहो हो / इस आर्टिकल में attitude shayari in hindi  में है /


Todays attitude shayri becomes a fashion to show our attitude. Here we provide some different kinds of attitude shayari.

Attitude shayari in hindi



भाई बोलने का हक़ मैंने सिर्फ 👩दोस्तों को दिया है..
वरना दुश्मन तो आज भी हमें बाप👨 के नाम से पहचानते हैं....

राज़ खुल ही जाएगा हमारी मोहब्बत का इक दिन वो महफ़िल में मुझको छोड़ सबको सलाम करते है.













भीड़👪 में खड़ा होना मकसद नहीं है मेरा..
बल्कि भीड़ जिसके लिए खड़ी है💚 वो बनना है मुझे....



मिजाज में थोड़ी सख्ती👽 लाजमी है हज़ूर..
लोग पी जाते अगर 💧समंदर खारा न होता....



क़ाबलियत 👿की बात मत कर.
हमें हराने के लिए 👦लोग..
कोशिस नहीं 💛साजिस करते है...



अपनी खासीयत 💛की क्या मिसाल दूँ यारों..
दिल भी गुस्ताख हो चला था बहुत, शुक्र है की यार ही बेवफा निकला.
ना जाने कितने मशहूर💑 हो गए हमें बदनाम करते करते....



ना तेरे आने की ☺खुसी☺ न तेरे जाने का गम..
मत रख हमसे वफा की उम्मीद, हमने हर दम बेवफाई पायी है, मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान, हमने हर चोट दिल पे खायी है.
वीत गया वो ज़माना जब तेरे 💜दीवाने थे हम....



डर हमेशा आपको ☝एक कैदी बना कर रखेगा..
जबकि खुले विचार आपको एक ✌बादशाह बना कर रखेंगे....



👼सफाई देने में अपना समय..
मत बर्बाद करिए: 👨लोग केवल....
वही 💑सुनते हैं जो..
वह सुनना👽 चाहते है....



हम बुरे💛 ही ठीक हैं.
जब अच्छे👉 थे तब कौन सा..
मैडल✌ मिल गया था...



कोशिस👿 इतनी है की कोई रूठे न हमसे..
नज़र अंदाज़ करने वालों से 👀नज़र👀 हम भी नहीं मिलाते....



शेर की भुख ओर हमारा 💚लुक दोनो ही जानलेवा हे..
रानी👩 नहीं तो क्या हूआ...
यह ✌बादशाह आज भी..
लाखों दिलों❤ पर राज करता हैं...



कोई  👧गर्लफ्रेँड👧 नहीँ है..
इसका मतलब ये नहीँ👿 की हम स्मार्ट नहीँ हैँ....
दिल भी गुस्ताख हो चला था बहुत, शुक्र है की यार ही बेवफा निकला.
हाल ये है की 👧लड़की हमको देख कर..
खुद को 😂रिजेक्ट कर लेती है....



चला गया वो💏 कुछ इस तरह..
जैसे वो कभी मेरा💦 था ही नहीं....



माना कि हमे ❤प्यार का इजहार नहीं आता.
लेकिन हम तेरे 💛जज्बात भी न समझ सके..
हम इतने नादान💜 भी नहीं...



हां मैं 👽पागल ही सही..
हम तो अपनी 👿राहों पर...
यूं ही 💚चलते रहेंगें..
हमें अपनी 💧राहों पे चलता हुआ देख...
जलने वाले यूं👼 ही जलते रहेंगे..



क्या करू 👾जनाब मुझे पागल से..
दोस्ती👈 कर ही पसंद है....
क्योंकि👩 मुसीबतों में आजतक कोई..
समझदार👲 नहीं आया....



अगर कोई👨 आपसे बेवजह नफरत
करता है...
तुझे है मशक-ए-सितम का मलाल वैसे ही, हमारी जान थी, जान पर वबाल वैसे ही.
तो उसे जोरदार थप्पड़
मारकर उसे ☝एक नई वजह दे दो....



शेर💚 खुद अपनी ताकत से राजा✌ केहलाता है..
जंगल💜 मे चुनाव नही होते....



ऐसा कोई👨 शहर नहीं.
जहा अपना👽 कहर नहीं..
ऐसी कोई गली नहीं💚 जहा अपनी चली नहीं...
तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी।



बाप👦 के सामने अय्याशी..
और हमारे👪 सामने बदमाशी...
बेटा👦..
भूल कर भी मत👾 करियो...



हमारी खामोशी👾 को हमारा घमंड ना समझो.
बस कुछ ठोकरे💛 ऐसी लगी है कि..
बहुत अजीब हैं ये मोहब्बत करने वाले, बेवफाई करो तो रोते हैं और वफा करो तो रुलाते हैं.
बोलने को मन नहीं* करता...



❤दिल❤ में मोहब्बत का होना जरूरी है..
वर्ना याद तो रोज दुश्मन💦 भी किया करते है....



माँ👩 ने कहा था कभी किसीका दिल मत तोडना..
इसलिए हमने ❤दिल❤ को छोड के बाक़ी सब तोड़ा....



निशाँनियाँ👽 मत माँगा करो..
❤मोहब्बत❤ में....
बड़ी तौहीन होती है..
रूक जाती है सारी शिकायतें इन होंठो तक आकर
जब मासूमियत से वो कहते है अब मैंने क्या किया
दीवानगी❤ से बढ़ के....
भला क्या कोई 💋निशानी होगी..



न मैं गिरा और न मेरी 👩उम्मीदों के मीनार गिरे..
पर कुछ लोग मुझे👦 गिराने में कई बार गिरे....



लोग👦 हमारे बारे में क्या सोचते है..
अब अगर ये भी हम ही 💚सोचेंगे...
तो फिर लोग👪 क्या सोचेंगे....



मेरे दुश्मन👽 भी मेरे मुरीद हैं शायद..
वक़्त-बेवक्त मेरा 💛नाम लिया करते हैं....
मेरी निगाहों में बहने वाला ये आवारा से अश्क पूछ रहे है पलकों से तेरी बेवफाई की वजह.
मेरी गली👽 से गुजरते हैं छुपा के खंजर..
रुबरू होने पर👻 सलाम किया करते हैं....



ख्वाब में तो 👾ख्वाब पूरे हो नहीं सकते कभी..
इसलिए राहे हकीकत पर चला करता हूँ मैं...


जरूरत है मुझे नये 👼नफरत करने वालों की..
सिर्फ एक ही बात सीखी इन हुस्न वालों से हमने​​, ​हसीन जिसकी जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है।
पुराने दुश्मन💕 तो अब मुझे चाहने लगे है....

Post a Comment

0 Comments